मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने आगामी विधानसभा चुनावों के लिए 291 सीटों के लिए तृणमूल कांग्रेस के उम्मीदवारों की सूची शुक्रवार को जारी की

Spread the love

कोलकाता। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने आगामी विधानसभा चुनावों के लिए 291 सीटों के लिए तृणमूल कांग्रेस के उम्मीदवारों की सूची शुक्रवार को जारी की। टिकटों के बंटवारे में युवाओं, अल्पसंख्यकों, महिलाओं और पिछड़े समुदायों पर जोर दिया गया है। तृणमूल कांग्रेस के एक सहयोगी दल गोरखा जनमुक्ति मोर्चा (जीजेएम) के बिमल गुरुंग गुट के तीन उम्मीदवार दार्जिलिंग की शेष तीन सीटों पर चुनाव लड़ेंगे।बनर्जी ने कहा, ”इस बार हमने अधिक युवाओं और महिला उम्मीदवारों पर जोर दिया है। इसके अलावा 23 से 24 मौजूदा विधायकों को इस बार चुनाव मैदान में नहीं उतारा गया है और सूची में लगभग 50 महिलाओं, 42 मुस्लिमों, 79 अनुसूचित जाति (एससी) और 17 अनुसूचित जनजाति (एसटी) उम्मीदवारों के नाम हैं।” लगातार तीसरी बार सत्ता में लौटने का दावा करते हुए बनर्जी ने इसे ”सबसे आसान” चुनाव करार दिया।बनर्जी ने कहा, ”इस बार हमने अधिक युवाओं और महिला उम्मीदवारों पर जोर दिया है। इसके अलावा 23 से 24 मौजूदा विधायकों को इस बार चुनाव मैदान में नहीं उतारा गया है और सूची में लगभग 50 महिलाओं, 42 मुस्लिमों, 79 अनुसूचित जाति (एससी) और 17 अनुसूचित जनजाति (एसटी) उम्मीदवारों के नाम हैं।” लगातार तीसरी बार सत्ता में लौटने का दावा करते हुए बनर्जी ने इसे ”सबसे आसान” चुनाव करार दिया।

उन्होंने कहा, ”सत्ता में आने के बाद हम विधान परिषद का गठन कराएंगे ताकि वरिष्ठ और अनुभवी नेताओं को समायोजित किया जा सके। हम हर किसी को विशेष रूप से 80 वर्ष से अधिक आयु के लोगों को समायोजित नहीं कर सकते थे।” उन्होंने कहा, ”मैं नंदीग्राम विधानसभा सीट से चुनाव लड़ूंगी, जबकि शोभनदेव चट्टोपाध्याय भवानीपुर सीट से चुनाव लडेंगे।” ममता बनर्जी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह को चुनौती दी कि वे जितना चाहें केंद्रीय बल तैनात करें, लेकिन जीत तृणमूल कांग्रेस की ही होगी।

ममता ने दो मंत्रियों, 20 विधायकों का काटा पत्ता
पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने शुक्रवार को नंदीग्राम विधानसभा सीट से चुनाव लड़ने की घोषणा की। तृणमूल कांग्रेस की 291 उम्मीदवारों की आज जारी सूची में पार्टी ने 20 से अधिक निवर्तमान विधायकों और दो मंत्रियों शिक्षा मंत्री पार्थ चटर्जी और वित्त मंत्री अमित मित्रा का पत्ता काट दिया है। बनर्जी की भवानीपुर सीट से ऊर्जा मंत्री शोवनदेव चटर्जी चुनाव लड़ेंगे। तृणमूल कांग्रेस ने राज्य में 27 मार्च से शुरू होने वाले आठ चरणों में मतदान के लिए 294 सीटों में से 291 उम्मीदवारों की घोषणा की है।

बनर्जी ने कहा कि उनकी पार्टी विधानसभा चुनाव 2021 में 291 सीटों पर चुनाव लड़ेगी और बाकी तीन सीटों दार्जिलिंग, कलिमपोंग और कुरसेओंग से विमल गुरुंग के नेतृत्व वाले जीजेएम के उम्मादवार चुनाव लड़ेंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि वह पूर्व मेदिनापुर में नंदीग्राम विधानसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ेंगी।

तृणमूल सुप्रीमो ने कहा,“ मैं नंदीग्राम से चुनाव लडूंगी, मैंने भवानीपुर सीट छोड़ दी है।” ऊर्जा मंत्री चटर्जी भवानीपुर के निवासी हैं और वह भवानीपुर सीट से चुनाव लड़ेंगे। बनर्जी ने इस सीट से 2011 और 2016 में चुनाव जीता था। बनर्जी ने कहा कि उनके 291 उम्मीदवारों में 50 महिला, 42 मुस्लिम उम्मीदवार भी चुनाव लड़ेंगे। उन्होंने कहा कि बंगाल के चुनाव के लिए तृणमूल उम्मीदवार के तौर पर 50 महिलायें, 42 मुस्लिम उम्मीदवार, 79 अनुसूचित जाति और 17 अनुसूचित जनजाति उम्मीदवार चुनाव लड़ेंगे।

तृणमूल विधायक ने विधानसभा चुनाव लड़ने से किया इनकार
तृणमूल कांग्रेस के कई नेताओं और पार्टी छोड़ने के बीच तृणमूल के एक और विधायक समीर चक्रवर्ती ने कहा कि वह पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव नहीं लड़ेंगे। तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के नेतृत्व ने कहा कि वे इस मुद्दे पर चक्रवर्ती से बात करेंगे। समीर चक्रवर्ती ने फेसबुक पर पोस्ट कर कहा, ”मैंने पार्टी सुप्रीमो (ममता बनर्जी) को बता दिया है कि मैं चुनाव नहीं लड़ना चाहता, लेकिन पार्टी के लिए प्रचार करूंगा।

समीर चक्रवर्ती पहली बार बांकुरा जिला में तालडंगरा से विधायक चुने गये थे। वह टीवी समाचार चैनलों पर होने वाले कार्यक्रमों में तृणमूल का जाना माना चेहरा हैं और इन कार्यक्रमों में विभिन्न मुद्दों पर टीएमसी का विचार रखते हैं। भाजपा नेता सायंतन बसु ने कहा कि 2019 में लोकसभा चुनाव के साथ तालडंगरा निर्वाचन क्षेत्र में टीएमसी भाजपा से बेहद पीछे थी और यहां से भगवा पार्टी के सुभाष सरकार विजयी रहे थे। यह क्षेत्र बांकुरा संसदीय क्षेत्र में पड़ता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *